सीलिंग पर भड़के BJP विधायक, मुख्यमंत्री बोले- ‘अरे! पहले चाय तो पी लो’ !!

नई दिल्लीः राजधानी दिल्ली में चल रहे सीलिंग अभियान के मुद्दे पर आज यहां मुख्यमंत्री आवास पर भाजपा के नेताओं के साथ हुई बैठक न सिर्फ बेनतीजा रही बल्कि भाजपा नेताओं ने बैठक में उनके साथ बदसलूकी किए जाने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन भी किया। सीलिंग मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज अपने आवास पर बैठक बुलायी थी। इस बैठक में आप नेताओं के अलावा भाजपा की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी के साथ कई भाजपा नेता भी मौजूद थे। इस दौरान वहां मीडिया के सामने ही केजरीवाल और तिवारी के बीच तीखी बहस हुई। केजरीवाल बार-बार भाजपा नेताओं से कह रहे थे कि हम लोगों ने आपका पक्ष सुना अब हमारा जवाब भी सुन लीजिए लेकिन भाजपा नेता वहां से बाहर को निकल गए। आम आदमी पार्टी ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो अपलोड किया जिसमें केजरीवाल भाजपा नेता विजेंद्र गुप्ता से अपील कर रहे हैं कि वे उनकी बात सुने और बैठ जाएं। साथ दिल्ली सीएम भाजपा नेताओं से कह रहे हैं, ”अरे, बैठ तो जाओ! पहले चाय तो पी लो!” बता दें कि तिवारी ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने बैठक में गुंडे बुलाए हुए थे। ये लोग इतना शोर शराबा कर रहे थे कि उन्हें अपनी बात कहने का मौका ही नहीं दिया। दूसरी और केजरीवाल ने बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि उपराज्यपाल चाहें तो इस मुद्दे का हल एक दिन में निकल सकता है। उनके पास इसे लेकर जो फाइलें मौजूद है वह उस पर हस्ताक्षर नहीं कर रहे हैं। यदि इस सप्ताह भी वह कुछ नहीं करते तो हम सीलिंग की कार्रवाई पर रोक के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि सीलिंग में भी भेदभाव हो रहा है। करीब 351 सड़कों पर सीलिंग नहीं हो रही है, सर्वे की रिपोर्ट अभी तक दिल्ली नगर निगम ने राज्य सरकार को नहीं सौंपी है। !!