सुंजवान कैंप आतंकी हमला:, देश का मस्तक झुकने नहीं देगी भारतीय सेना : राजनाथ सिंह !!

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार (10 फरवरी) को जम्मू के सैन्य शिविर पर हुए आतंकवादी हमले के बाद राज्य के डीजीपी एस.पी. वैद से बात की. अधिकारी ने बताया कि गृह मंत्रालय इस स्थिति पर करीब से नजर बनाए हुए है. मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, “पुलिस महानिदेशक ने उन्हें स्थिति से अवगत कराया है.” इससे पहले शनिवार (10 फरवरी) तड़के आतंकवादियों का एक समूह ग्रेनेड फेंकते हुए और भारी गोलीबारी करते हुए जम्मू में सुंजवान सैन्य शिविर में घुस गया. पुलिस ने क्षेत्र को चारों ओर से घेर लिया है और आतंकवादियों के सफाए के लिए अभियान जारी है. इसी सैन्य शिविर पर 2006 में भी आतंकवादी हमला हुआ था, जिसमें 12 जवान शहीद हो गए थे और सात अन्य घायल हुए थे. गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, ‘फिलहाल घटना पर कुछ कहना सही नहीं होगा क्योंकि सैन्य अभियान चल रहा है, लेकिन आपको आश्वस्त करता हूं बल और सेना के जवान अपनी ड्यूटी कर रहे हैं, वो आप लोगों का मस्तक झुकने नहीं देंगे.’

सैन्य शिविर पर आतंकी हमले में दो जेसीओ शहीद, चार लोग घायल
जम्मू के सुंजवान शहर में स्थित सेना के एक शिविर पर शनिवार (10 फरवरी) तड़के आतंकवादियों ने हमला कर दिया जिसमें दो जूनियर कमिशंड अधिकारी (जेसीओ) शहीद हो गए, जबकि एक कर्नल रैंक का अधिकारी और एक सैन्य कर्मी की बेटी समेत चार लोग घायल हो गए. प्रदेश के संसदीय कार्य मंत्री अब्दुल रहमान वीरी ने जम्मू कश्मीर विधानसभा को जानकारी दी कि आतंकवादियों के हमले में सूबेदार मगनलाल और सूबेदार मोहम्मद अशरफ शहीद हो गए. उन्होंने बताया कि घायलों में कर्नल रैंक का सैन्य अधिकारी, हवलदार अब्दुल हमीद, लांस नायक बहादुर सिंह और सूबेदार चौधरी की बेटी शामिल हैं. मंत्री ने यह नहीं बताया कि हमला करने वाले आतंकवादी किस संगठन के थे हालांकि अधिकारियों ने बताया कि इस हमले के पीछे जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों का हाथ है. !!

Leave a comment