संजू सैमसन ने तूफानी दोहरा शतक ठोककर रचा इतिहास, जड़ी रोहित से भी तेज डबल सेंचुरी

देश के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन ने घरेलू टूर्नामेंट विजय हजारे ट्रॉफी में शनिवार को अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से धमाल मचा दिया है। केरल के मध्यक्रम के बल्लेबाज ने सैमसन ने गोवा के खिलाफ तूफानी अंदाज में अपना पहला दोहरा शतक ठोका है। सैमसन विजय हजारे टूर्नामेंट के इस सीजन में दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज हैं, साथ ही लिस्ट ए में सबसे तेज दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड भी उन्होंने अपने नाम कर लिया। सैमसन ने धुंआधार बल्लेबाजी करते हुए 125 गेंद में 200 रन जड़ दिए। भारत की ओर से फर्स्ट क्लास क्रिकेट में यह आठवां दोहरा शतक है, जबकि घरेलू क्रिकेट में ये तीसरा दोहरा शतक है। दाएं हाथ के बल्लेबाज संजू सैमसन ने 129 गेंदों में 20 चौके और 10 छक्के लगाकर 212 रन की पारी खेली। इस दौरान संजू सैमसन का स्ट्राइकरेट 162.99 का रहा, जो किसी भी भारतीय का दोहरे शतक के लिए सबसे ज्यादा है। संजू सैमसन के फर्स्ट क्लास करियर की पहली सेंचुरी थी, जिसे उन्होंने दोहरे शतक में तब्दील किया। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में दोहरा शतक जड़ने वाले खिलाड़ियों की सूची में सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा (अकेले 3 बार), शिखर धवन, करनवीर कौशल के साथ अब संजू सैमसन का नाम भी अब जुड़ गया है।

 

 

गोवा के खिलाफ केरल के कप्तान कप्तान रोबिन उथप्पा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी चुनी और 49.4 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 372 रन बनाए। केरल की ओर से संजू सैमसन ने नंबर तीन पर बल्लेबाजी करते हुए 212 रन की नाबाद पारी खेली, जो प्रथम श्रेणी में किसी भी विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा खेली गई सर्वश्रेष्ठ पारी है। लिस्ट ए में नंबर तीन पर खेलते हुए दोहरा शतक बनाने वाले सैमसन पहले बल्लेबाज बने।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *