महागठबंधन सरकार मतभेद बढ़ऐ, तेजस्वी पर इस्तीफे का दबाव

सीबीआई जांच में बिहार के उपमुख्यमंत्री और लालू प्रसाद यादव के पुत्र तेजस्वी यादव के नाम आने के बाद से महागठबंधन सरकार में शामिल जदयू और राजद के बीच मतभेद बढ़ गये है, जदयू का कहना है कि जांच होने तक तेजस्वी अपने पद से इस्तीफा दे जबकि राजद इस्तीफा नहीं देने से मना कर दिया है सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बिहार के मुख्यमंत्री और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार हर हाल में तेजस्वी का इस्तीफा चाहते हैं,  उन्होंने इस मामले में गठबंधन सरकार में शामिल कांग्रेस के अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी से फोन पर बात की वे चाहते हैं कि कांग्रेस तेजस्वी पर इस्तीफे का दबाव बनाए, सीबीआई ने पूर्व रेलमंत्री लालू प्रसाद और बिहार के उपमुख्यमंत्री एवं उनके बेटे तेजस्वी यादव सहित उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ भ्रष्टाचार का एक मामला दर्ज किया है, सीबीआई ने सात जुलाई को पटना सहित देशभर के 12 स्थानों पर छापेमारी की थी, भ्रष्टाचार के मामले में प्राथमिकी दर्ज होने के बाद मुख्य विपक्षी पार्टी भाजपा ने तेजस्वी से इस्तीफे को लेकर मुख्यमंत्री पर दबाव बनाने लगी, सूत्रों ने कहा, नीतीश फैसले से पहले कांग्रेस को भी मौका देना चाहते हैं, नीतीश महागठबंधन टूटने की जिम्मेदारी अपने ऊपर नहीं लेना चाहते हैं, नीतीश कुमार फैसले लेने से पहले 4 या 5 दिन और इंतजार कर सकते हैं, हालांकि तेजस्वी पर जदूय का 4 दिन का अल्टीमेटम खत्म हो गया है, इसी मामले को लेकर सीएम नीतीश कुमार आज शाम 4 बजे पटना में जदयू विधायकों की आपात बैठक बुलाई है, दूसरी ओर आज ही राजद और कांग्रेस विधायकों की भी बैठक होगी, गौरतलब है कि भ्रष्टाचार के आरोप में फंसे तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग तेज हो रही है, लेकिन लालू यादव ने साफ कर दिया है कि वे तेजस्वी से इस्तीफा नहीं लेंगे..

Leave a comment