बैंक में नहीं मिली नौकरी तो युवक ने खोल दी स्टेट बैंक की फर्जी शाखा, बैंक प्रबंधन भी चकराया

तमिलनाडु में 19 साल के एक युवक को एसबीआई का नकली ब्रांच खोलने के आरोप में पुलिस ने गिरफ्तार किया है. तमिलनाडु पुलिस के मुताबिक 19 वर्षीय युवक ने तमिलनाडु के पास पन्रुती में भारतीय स्टेट बैंक की एक शाखा खोलने प्रयास किया गया. इसके बाद उसे जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार युवक सेवानिवृत्त एसबीआई कर्मचारी का पुत्र है | उसने बैंक खोलने के लिए सार्वजनिक क्षेत्र के ऋणदाता की फर्जी मुहरें और चालान तैयार कर लिया था. इसके अलावा बैंक में इस्तेमाल की जाने वाली कैश काउंटिग मशीन की उसे जरूरत थी. आरोपी युवक ने तमिलनाडु से 25 किलोमीटर दूर पनरूति स्थित अपने घर के ऊपरी तल्ले को बैंक शाखा खोलने के लिए तैयार कर रहा था |

 

हालांकि, उन्होंने कोई साइनबोर्ड नहीं लगाया था. इसकी जानकारी मिलने के बाद एसबीआई पनरुती शाखा प्रबंधक ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि एक ग्राहक एसबीआई की शाखा खोल रहा है जिसके लिए उसने चालान भी तैयार कर लिया है | पुलिस ने शाखा प्रबंधक कि शिकायत के बाद युवक से पूछताछ के बाद उसे जालसाजी और नकली मुहरों के साथ उसे गिरफ्तार कर लिया गया. उसके पास से एक प्रिंटर भी बरामद किया गया है जिसका इस्तेमाल वो नकली मुहर और नकली चालान छापने के लिए करता था. गिरफ्तारी के बाद युवक को मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया. जहां से उसे जमानत मिल गयी है |

 

पनरुति के इंस्पेक्टर के अम्बेठकर ने बताया कि जांच में किसी व्यक्ति से फर्जी बैंक में पैसा जमा कराने या किसी को लोन देने की बात सामने नहीं आयी है. उन्होंने बताया कि आरोपी युवक के एसबीआई से रिटायर हो चुके थे, जिनका निधन हो गया है. उसकी मां कुछ दिन पहले बैंके से रिटायर हुई है. आरोपी के घरवालों को इस संबंध में किसी प्रकार की कोई जानकारी नहीं थी |

 

पूछताछ के दौरान यह बात भी सामने आयी है कि युवक बैंक में काम करना चाहता. माता-पिता बैंक में होने के कारण काफी लंबे समय से बैंक के कार्यों को देखता था. उसे बैंके के कार्यों कि अच्छी समझ थी. इंस्पेक्टर ने कहा आरोपी युवक ने शाखा खोलने की अनुमति के लिए मुंबई से मंजूरी लेने का आवेदन भी दिया था |

Leave a comment