अंधेरे में डूबा पूरा पाकिस्तान, कराची लाहौर, इस्लामाबाद सहित कई शहर अंधेरे में डूबे

पाकिस्तान को आज (रविवार, 10 जनवरी) तड़के सुबह बड़े पैमाने पर बिजली संकट का सामना करना पड़ा है. इसकी वजह से पूरा पाकिस्तान अंधेरे में डूब गया है. देश के अधिकांश प्रमुख शहरों में अंधेरा छा गया. नेशनल पॉवरग्रिड फेल होने की वजह से देशभर में बिजली की आपूर्ति ठप होने से यह संकट पैदा हुआ | 21 करोड़ से अधिक की आबादी वाले पाकिस्तान में बिजली वितरण प्रणाली जटिल और नाजुक स्थिति में है. वेब और ग्रिड के एक हिस्से में समस्या आने से देशव्यापी संकट का सामना करना पड़ता है. मौजूदा ब्लैकाउट की वजह से देश की राजधानी इस्लामाबाद से लेकर आर्थिक राजधानी कराची और दूसरे सबसे बड़े शहर लाहौर भी प्रभावित हुआ है | पाक ऊर्जा मंत्रालय ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में बिजली बहाल कर दी गई है और टीम अभी भी रविवार के शुरुआती घंटों में पूरी तरह से आपूर्ति बहाल करने पर काम कर रही है |

आधे पाकिस्तान को अब भी बिजली का इंतजार
इसके बाद पाकिस्तान के सूचना मंत्री शिबली फराज ने भी एक लाइन का बयान जारी कर कहा कि एनटीडीसी के सिस्टम में तकनीकी खामी आई है, सिस्टम को रिस्टोर किया जा रहा है. कुछ देर बाद ऊर्जा मंत्रालय के ट्विटर अकाउंट से नेशनल पॉवर कंट्रोल सेंटर में बिजली की बहाली के काम को देखते हुए ऊर्जा मंत्री की एक तस्वीर भी जारी की गई. इसके बाद करीब 1.45 बजे एनटीडीसी के संगजनी और मर्दन ग्रिड में बिजली की बहाली की सूचना दी गई. फिर शाही बाग ग्रिड और बहरिया टाउन में भी बिजली की बहाली की खबर आई. सुबह होते होते इस्लामाबाद इलेक्ट्रिक सप्लाई कंपनी के ग्रिड से भी बिजली चालू कर दी गई. हालांकि पावर ब्लैकआउट के कई घंटे बाद भी करीब करीब आधा पाकिस्तान अब भी बिजली का इंतजार कर रहा है | पाकिस्तान में बिजली गुल होने की ये कहानी कोई नई बात नहीं है. इससे पहले 2018 में भी दो बार पाकिस्तान में पॉवर ब्लैकआउट हो चुका है. 2015 में भी जब बलूच आंदोलनकारियों ने पावर ग्रिड पर हमला किया था तो अस्सी फीसदी पाकिस्तान अंधेरे में डूब गया था |

Leave a comment